भारत के महत्वपूर्ण ट्रैफिक नियमों।

0
105

संसद में यातायात को नियंत्रित करने के लिए मोटर वाहन अधिनियम में कुछ बदलाव किए हैं। परिवहन मंत्रालय ने 28 अगस्त, 2019 को एक अधिसूचना जारी की, जिसमें सभी कानून 1 सितंबर 2019 से लागू हो गए हैं।

• मोटर व्हीकल एक्ट 1988 के तहत गाड़ी चलाते समय धारा -185 202 के तहत अगर आपके 100 मिलीलीटर रक्त में 30 मिलीग्राम से अधिक अल्कोहल है तो पुलिस आपको बिना वारंट के गिरफ्तार कर सकती है।

पहले अपराध के लिए आपको 6 महीने तक की कैद और/या 10000 रुपये तक का जुर्माना हो सकता है। दूसरे अपराध के लिए 15000 रूपिए और 2 साल तक की कैद हो सकती है।

• भारतीय मोटर वाहन अधिनियम की धारा 129 के अनुसार दोपहिया वाहन चालकों के लिए हेलमेट पहनना अनिवार्य है।

इस मोटर वाहन अधिनियम की धारा 128 बाइक पर अधिकतम दो सवारियों को सीमित करती है।

यह कानून यह भी कहता है कि अगर ट्रैफिक पुलिस अधिकारी कार या मोटरसाइकिल से चाबी छीन लेता है, तो यह अवैध है।

आपको अधिकारी के खिलाफ कानूनी कार्यवाही शुरू करने का पूरा अधिकार है।

• रेसिंग और तेज गति के लिए सजा पहले अपराध के लिए 1 महीने तक की कैद और/या 500 रुपये तक का जुर्माना है।

दूसरे अपराध के लिए 1 महीने तक की कैद और/या 10000 रुपये तक का जुर्माना।

• अगर आपके पास बिना बीमा वाला वाहन है तो आपको दंडित किया जाएगा पहले अपराध के लिए 3 महीने तक की कैद और 2000 रुपये का जुर्माना।

दूसरे अपराध के लिए 4000 रुपये का जुर्माना और/या 3 महीने तक की कैद।

• अयोग्य होने के बावजूद ड्राइविंग के मामले में आपको पहले 500 रुपये से 10,000 रुपये जुर्माना देना होगा।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here